सावन सोमवार पर घर बैठे करें बाबा महाकाल के लाइव दर्शन

श्री महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग उज्जैन मोबाइल एप, बेवसाइट और यूट्यूब से सीधा प्रसारण, भक्तों को मोबाइल पर दर्शन दे रहे हैं महाकाल

कोरोना संकट के चलते भक्तों को महाकाल के दरबार में हाजिरी लगाने से तो रोक दिया पर उनकी भावना को कैसे रोक पाते। सावन का पहला सोमवार पर सभी भक्तों को इच्छा होती है कि वह महाकाल की भस्म आरती के साक्षात दर्शन करें पर कोरोना के चलते मंदिर में प्रवेश को लेकर बदिशें हैं इसलिए महाकाल मंदिर प्रबंधन ने बाबा के लाइव दर्शन कराने के लिये पूरा इंतजाम कर दिया है। अब जब भी आपको बाबा के दर्शन की इच्छा हो उसी समय बाबा के सजीव दर्शन हो जाएंगे।सावन का पवित्र माह चल रहा है और सावन के सोमवार को अलसुबह 4:00 बजे भस्म आरती के दर्शन हो जाए तो इससे बड़ा पुण्य कुछ भी नहीं है। हालांकि कोरोना वायरस (Corona Virus) के कारण आरती में श्रद्धालुओं के प्रवेश को लेकर कड़ाई लागू हैं। पर अगर आपको बाबा की भस्म आरती के दर्शन बिना उज्जैन जाए हो जाए तो आप भक्तों के लिए इससे अच्छी खबर और नहीं हो सकती। बाबा महाकाल ने भक्तों की इसी इच्छा को अब पूरी कर दिया है अब आप अपने घर से हर रोज भस्म आरती के दर्शन का लाभ उठा सकते हैं।

मोबाइल से महाकाल दर्शन
महाकालेश्वर मंदिर के लाइव दर्शन एप को मोबाइल के प्ले स्टोर और एपल स्टोर से डाउनलोड कर सीधा प्रसारण देखा जा सकता है। सजीव प्रसारण के साथ साथ एप खोलने पर डेशबोर्ड पर जनरल दर्शन टिकट का लोगो दिखेगा। इसे टच करने पर बुकिंग का ऑप्शन खुल जाएगा। इसमें सबसे पहले तारीख और दर्शन का समय चुनें। आवेदन पत्र खुल जाने पर उसमें मांगी गई जानकारी भरकर सबमिट कर दें। आवेदन स्वीकृत होने पर एसएमएस आएगा, जो इस बात की परमीशन देगा कि, आपका आवेदन स्वीकृत किया गया है, आप दर्शन कर सकते हैं। या फिर टोल फ्री नंबर – 18002331008 पर भी बुकिंग कर बाबा के दर्शन किये जा सकते हैं।

 

मोबाइल पर शाही सवारी
महाकाल मंदिर की वेबसाइट, महाकाल ऐप,फेसबुक पेज और डिजिटल चैनलों के जरिए बाबा महाकाल की शाही सवारी का LIVE प्रसारण किया जाएगा। बाबा की शाही सवारी में भक्तों को शामिल नहीं होने पर भी सवारी के सजीव दर्शन कर सकेंगे। श्रावण मास के हर सोमवार को निकलने वाली बाबा महाकाल की शाही सवारी में कोरोना प्रोटोकॉल के चलते अनुमति नहीं दी गई है।

सवारी में उज्जैन के राजा बाबा महाकाल नगर भ्रमण पर निकलते हैं जिसमें हजारों-लाखों भक्त शामिल होते थे लेकिन इसबार भक्तों को बाबा महाकाल की सवारी दर्शन के लिए मंदिर समिति और प्रशासन ने एक खास व्यवस्था की है जिसके जरिए भक्त घर बैठे बाबा महाकाल की शाही सवारी के लाइव दर्शन कर पाएंगे। लाइव बाबा महाकाल की सवारी निकलने के मार्ग से किया जाता है।