आदिवासी बालक छात्रावास में कॉरोना गाइडलाइन के अनुसार नहीं हो रहा संचालन

छिंदवाड़ा ,कॉर्न सिटी न्यूज़ 

छिंदवाड़ा। अमरवाड़ा विकासखंड के आदिवासी बालक छात्रावास लहगडुआ मैं नहीं हो रहा कोरोना गाइडलाइन के अनुसार संचालन यहां बालक छात्रावास के साथ-साथ आश्रम भी है जहां पहली से लेकर आठवीं तक के छोटे-छोटे बच्चे अध्ययन करते हैं लेकिन छात्रावास अधीक्षक द्वारा यहां पर बच्चों के लिए मास्क और सैनिटाइजर की कोई व्यवस्था नहीं की गई है। छात्रावास में चारों तरफ गंदगी का आलम है।

आदिवासी छात्रावास आश्रमों के लिए सरकार द्वारा लाखों रुपए की राशि आती है लेकिन छात्रावास अधीक्षक द्वारा सही तरीके से उस पैसे का उपयोग नहीं किया जाता अगर छात्रावास में बच्चे मास्क और सैनिटाइजर का उपयोग नहीं करेंगे तो उन्हें कोरो ना होने की संभावना रहेगी देखा गया कि छात्रावास में किसी भी एक भी बच्चे ने नाही मास्क लगाया है नाही छात्रावास में किसी भी प्रकार की सैनिटाइजर की व्यवस्था है नाही सोशल डिस्टेंसिंग है ग्रामीण क्षेत्र होने के कारण उच्च अधिकारी भी इन छात्रावास आश्रमों का दौरा नहीं करते जिनके कारण अधीक्षक एवं स्टाफ भी मनमानी तरीके से ड्यूटी करते हैं और उनके हौसले बुलंद हैं। यहां इतने कर्मचारी होने के बाद भी बच्चों की जान से हो रहा खिलवाड़ अगर किसी एक भी बच्चे को करो ना हो जाता है तो संक्रमण पूरे बच्चे में फैलने का खतरा मंडरा रहा है अभी यहां छात्रावास और आश्रम में छोटे-छोटे बच्चे रहते हैं जिन्हें अभी तक छोटे बच्चे के लिए वैक्सीन नहीं लगी है जिससे अधीक्षक एवं छात्रावास स्टाफ को सावधानी बरतते हुए छात्रावास एवं आश्रम का संचालन करना चाहिए।   ….स्वरूप इनवाती की रिपोर्ट