अधिकारी कर्मचारियों की समझाइश उपरांत धरना प्रदर्शन हुआ समाप्त

CCN /कॉर्न सिटी समाचार/ डिडौरी ब्योरो रिपोट 

7067219272

डिण्डौरी। जिले के जनपद पंचायत अमरपुर क्षेत्र अंतर्गत ग्राम पंचायत चांदपुर में पानी की समस्या को लेकर ग्रामीणों के व्दारा सड़क जाम धरना प्रदर्शन किया गया हैं, ग्रामीणों के व्दारा जानकारी में बताया गया कि गांव में नल जल योजना संचालित हैं, संचालित नल जल से ग्रामीणों को पीने का पानी मिल रहा था, लेकिन नल जल योजना को संचालित करने की जिम्मेदारी गांव की महिला समूह को दे दिया गया हैं, महिला समूह के व्दारा नल जल योजना संचालित करने में लापरवाही बरती जा रही हैं, जिससे ग्रामीणों को पीने के लिए पानी नहीं मिल रहा हैं , पीने का पानी नहीं मिलने से ग्रामीण परेशान हैं , लगभग चार-पांच दिनों से पेयजल नहीं दिया जा रहा हैं , जिससे आक्रोशित होकर ग्रामीणों ने सड़क जाम धरना प्रदर्शन किया गया हैं, ग्रामीणों का मांग हैं कि नलजल समूह की महिलाओं को नहीं दिया जाएं, बल्कि ग्राम पंचायत के व्दारा ही संचालित किया जाएं जिससे ग्रामीणों को पीने का पानी मिल सकें मामले को लेकर संबंधित समूह से जानकारी ली गई जानकारी में बताया गया कि नलजल में बाल खराब होने के कारण नलजल कुछ दिनों से बंद हैं, नलजल का सुधार कार्य कराया जा रहा हैं, सुधार कार्य कराने उपरांत पहले की तरह पानी दिया जाएगा, सबसे बड़ी समस्या ये हैं कि कनेक्शन धारी समय में निर्धारित कनेक्शन शुल्क नहीं दिया जा रहा हैं, जिससे बिजली बिल भुगतान नहीं हो पा रही हैं, नलजल में गड़बड़ी आने पर सुधार कार्य नहीं हो पा रहा हैं महीने पर कनेक्शन शुल्क मांगने पर गाली-गलौज करते हैं, जिससे नलजल योजना संचालित करने से परेशान हैं, ग्रामीणों ने दिन सोमवार 29 अप्रैल को सुबह से ग्रामीणों व्दारा खाली वर्तन रखकर चांदपुर से अमरपुर डिण्डौरी मुख्यमार्ग में सड़क जाम धरना प्रदर्शन शुरू कर दिये जिससे अमरपुर ब्लाक मुख्यालय और जिला मुख्यालय का आवागमन अवरूद्ध हो गया लगभग दो तीन घंटे तक सड़क जाम रहा हैं, सड़क जाम होने से आवागमन अवरूद्ध रहा जिससे आने जाने वाले व्यापारी और ग्रामीण परेशान होते रहे जिसकी सूचना मिलते ही श्रीकांत गुप्ता पी एच ई , आरपी मार्कों नायब तहसीलदार अमरपुर , लोकेश नरनोरे जनपद पंचायत मुख्यकार्यपालन अधिकारी , अतुल हरदहा चौकी प्रभारी पुलिस बल के साथ पहुंचे ग्रामीणों को समझाइश दिया गया धरना प्रदर्शनकारी ग्रामीणो को अधिकारी कर्मचारियों की समझाइश एवं आश्वासन देकर अतिशीघ्र पेयजल उपलब्ध कराने की बात की गई तब ग्रामीणों के व्दारा चक्का जाम धरना प्रदर्शन समाप्त किया गया।