अंकुर कार्यक्रम जनसहभागिता से वृहद वृक्षारोपण -वृक्षमित्र रवीन्द्र सिंह कुशवाह समाजसेवी

छिन्दवाड़ा:- म.प्र.में 5 जून 2021 से जनसहभागिता से वृहद वृक्षारोपण के कार्यक्रम वायुदूत एप में पंजीयन करने के बाद वृक्ष की फोटो खींचकर एप पर डालना हैं इसी वृक्ष की पुनः एक माह बाद फोटो खींचकर फिर वायुदूत एप पर डालना  हैं पौधे लगाने वाले पुरूष वृक्षवीर एवं महिलाओं को वृक्ष वीरांगना का सहभागिता प्रमाण पत्र मिलेगा। लगाये गये पौधे का दोनों बार फोटो पहंुचने के बाद जिला प्रशासन के नोडल अधिकारी श्री राजकुमार कोरी एवं वेरीफायर की मदद से वृक्षों का सत्यापन कराया जावेगा एवं जीवित पाये गये वृक्षों का लाॅटरी डालकर प्रत्येक जिले में 200 पौधों का सत्यापन कराया जायेगा ,जिसमें शहरी क्षेत्र की 50 महिला एवं 50 पुरूष तथा ग्रामीण क्षेत्र 50 महिला एवं 50 पुरूष के वृक्षों का सत्यापन कर इनमें से उत्कृष्ट वृक्ष वीरों एवं वीरांगनों को प्राणवायु पुरूस्कार से राज्य सरकार द्वारा अलकृत किया जायेगा। अतः जिला तथा प्रदेश वासियों से स्वयंसेवी संस्थाओं एवं पर्यावरण प्रेमियों ,शैक्षणिक संस्थाओं एवं शासकीय एवं अशासकीय संस्थाओं से आग्रह है कि जिले को प्रदेश में नंबर वन लाने हेतु अधिक से अधिक वृक्ष लगाकर वायुदूत एप में पंजीयन  करें। जिले में प्रतिदिन वृक्षारोपण किया जा रहा हैं लेकिन वायुदूत एप में पंजीयन न होने से जिले का पंजीयन की संख्या अत्यंत ही कम है । अतः जिले के प्रबुद्ध नागरिकों एवं पत्रकार बंधुओं ,मीडिया प्रभारियों ,जनप्रतिनिधियों एवं संभ्रात नागरिकों ,किसानों एवं शिाक्षाविदों ,पर्यावरणविदो ,कृषि ,उद्यानिकी ,वानिकी एवं पी.एच.ई.एवं लोक निर्माण विभाग ,ग्रामीण विकास विभाग एवं नगरीय निकाय से आग्रह है कि वर्षा ऋतु में किये जा रहे वृक्षारोपण को वायुदूज एप के माध्यम से पंजीयन कराकर जिले का प्रदेश में अग्रणी स्थान प्रदान करवाने में अपना योगदान देकर जिले को गौरावान्वित करवाने हेतु आग्रह हैं। जिला कलेक्टर,मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत ,आयुक्त आदिवासी विकास,जिला शिक्षा अधिकारी, मुख्य वनसंरक्षक ,उपसंचालक कृषि ,उपसंचालक पशुपालन ,उपसंचालक उद्यानिकी एवं समस्त विभाग प्रमुख से आग्रह है कि जिले में अधिक से अधिक वृक्षों का पंजीयन करवाकर वायुदूत एप में जिले की भागीदारी बढ़ाने की कृपा करें ,इस हेतु तत्काल जिला स्तरीय बैठक का आयोजन कर समस्त योजना का विस्तृत समीक्षा एवं आवश्यक निर्देश प्रसारित कर अंकुर अभियान को सफल बनाने हेतु सुझाव प्रेषित है।
रवीन्द्र सिंह
समाजसेवी