ओबीसी और कमजोर वर्ग के छात्रों को आरक्षण

डिंडोरी/ केंद्र व प्रदेश की सरकार हर वर्ग की चिंता कर रही है जो आर्थिक रूप कमजोर है उनको समाज की मुख्यधारा से जोड़ने के लिए निरंतर कार्य कर रही है ईसी आधार पर प्रधानमंत्री ने हर वर्ग की चिंता करते हुए पूर्व में पिछड़ा वर्ग आयोग का गठन किया है और वर्तमान में अब देश में मेडिकल शिक्षक को लेकर केंद्र सरकार की ओर से एक बड़ा फैसला लिया गया है इसके तहत वर्तमान शैक्षणिक वर्ष 2021- 2022 से अंडरग्रेजुएटऔर पोस्ट ग्रेजुएट व डेंटल कोर्स के लिए अखिल भारतीय कोटा योजना के तहत ओबीसी और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के उम्मीदवारों को आरक्षण दिया जाएगा अन्य पिछड़ा वर्ग को 27% और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग को 10% आरक्षण दिया गया है उक्त जानकारी भाजपा जिला अध्यक्ष नरेंद्र सिंह राजपूत ने पत्रकारों से चर्चा के दौरान दी इस दौरान वरिष्ठ नेता अशोक अवधिया ने प्रधानमंत्री द्वारा वर्तमान शैक्षणिक वर्ष से स्नातक और स्नातकोत्तर मेडिकल वा डेटॉल पाठ्यक्रमों के लिए अखिल भारतीय कोटा योजना से अन्य पिछड़ा वर्ग और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग को आरक्षण प्रदान करने के ऐतिहासिक फैसले की सराहनाकेे  जिला उपाध्यक्ष महेश पराशर ने कहा कि आज पिछड़ा वर्ग को उचित स्थान दिलाने में भारतीय जनता पार्टी की महत्व भूमिका रही है ।

नगर परिषद अध्यक्ष एवं जिला महामंत्री पंकज सिंह तेकाम ने बताया कि प्रधानमंत्री के नेतृत्व में देश के हर वर्ग को लाभ वितरित किया गया है पिछड़ा वर्ग में आर्थिक आधार पर कमजोर लोगों को लाभ मिलेगा। जिला महामंत्री अवधराज बिलैया ने बताया कि पिछड़ा वर्ग को 27% आरक्षण से हर साल हजारों की संख्या में युवाओं को बेहतर अवसर प्रयास करने और हमारे देश में सामाजिक न्याय का एक नया उदाहरण देश के प्रधानमंत्री ने दिया है मंच का संचालन जिला महामंत्री पंकज सिंह तेकाम व,जिला मीडिया प्रभारी सुधीर दत्त तिवारी ने व्यक्तत किया इस दौरान पूर्व जिला महामंत्री राजेंद्र पाठक पूर्व जिला उपाध्यक्ष रमन सिंह ठाकुर आईटी सेल प्रभारी पवन शर्मा मंडल अध्यक्ष लक्ष्मण सिंह ठाकुर हेमसिंह राजपूत अजय साहू घनश्याम साहू जयप्रकाश साहू लोचन यादव आशीष सोनी पुरुषोत्तम विश्वकर्मा अविनाश छाबड़ा स्कंध चौकसे राम अनुज राव मोहन सिंह राठौर सहित अन्य लोग मौजूद रहे

डिंडोरी से चंद्रिका यादव की खास रिपोर्ट