कांग्रेस सेवादल ने ग्राम पंचायत बौहानाखेरी राशि घोटाले में जनपद पंचायत छिंदवाड़ा, जिला पंचायत एवं बैंक अधिकारी के खिलाफ कार्यवाही की मांग की।

छिंदवाड़ा:- कांग्रेस सेवादल जिलाध्यक्ष सुरेश कपाले ने बताया कि ग्राम पंचायत बौहानाखेरी मैं 23 जीवित व्यक्तियों के फर्जी मृत्यु प्रमाण पत्र बनाकर 45 लाख रुपए का गबन ग्राम पंचायत सचिव एवं रोजगार सहायक के माध्यम से किया गया है। कांग्रेस सेवादल ने कलेक्टर महोदय से ग्राम पंचायत बोहानाखेरी फार्जीवाडे कि निष्पक्ष जांच कराने कि मांग कि है। इस फार्जीवाडे में जनपद पंचायत अधिकारी, जिला पंचायत अधिकारी एवं सम्बंधीत बैंक के उच्च अधिकारियों कि जांच कि जाए। क्योंकि इन सभी अधिकारियों की भूमिका इस केस में महत्वपूर्ण होती है, क्योंकि राशि अहरण मैं जनपद पंचायत के मूल अधिकारी एवं जिला पंचायत के अधिकारी की अनुमति आवश्यक होती है, इन अधिकारियों ने इस फर्जीवाड़े मैं इतनी बड़ी राशि निकालने में हितग्राहियों की गांव में जांच क्यों नहीं करवाई। बगैर जांच के इतनी राशि को निकालने कि अनुमति या चैक हस्ताक्षर कैसे किये गये इस फर्जीवाड़े मामले में बैंक के अधिकारी एवं कर्मचारी कि सूक्ष्म जांच किया जाना अवश्यक है। क्योंकि ग्राम पंचायत बोहानाखेरी फार्जीवाडे में छोटे कर्मचारियों को फसाया गया एवं बड़े कर्मचारियों को बचाया जा रहा है, जो संदेह उत्पन्न करता है। कांग्रेस सेवादल ने मांग की है कि इन बड़े कर्मचारियों की भी जांच की जाए एवं दोषी पाए जाने पर मामला पंजीबद्ध किया जाना चाहिए। इस जांच में इन अधिकारीयों कि संदिग्ध भूमिका पाई जाती है इन उच्च अधिकारियों के खिलाफ मामले पंजीबद्ध किया जाना चाहिए।