छात्रों के लिए बड़ी खबर, अनुशंसा मिलने पर ही 15 से खुलेंगे कॉलेज

CCN/कॉर्नसिटी

कॉलेजों में शैक्षणिक गतिविधियां प्रारंभ की जाएंगी।

छिंदवाड़ा:- उच्च शिक्षा विभाग के निर्देशानुसार 15 सितंबर से कॉलेज खोलने की तैयारी शुरु हो गई है। पांच माह से बंद कॉलेजों की सफाई भी शुरु हो गई है। दो दिन बाद बुधवार से कॉलेजों में एक बार फिर रौनक लौट आएगी। कॉलेजों को खोलने को लेकर उच्च शिक्षा विभाग द्वारा विस्तृत निर्देश जारी किया गया है। जिसके अनुसार जिला स्तर पर गठित क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की अनुशंसा के बाद ही कॉलेजों में शैक्षणिक गतिविधियां प्रारंभ की जाएंगी। शैक्षणिक एवं अशैक्षणिक स्टॉफ की शत-प्रतिशत उपस्थिति रहेगी। कॉलेजों में विद्यार्थियों की भौतिक रूप से 50 प्रतिशत उपस्थिति के साथ कक्षाओं का संचालन किया जाएगा। विभाग ने यह भी स्पष्ट किया है कि ऑफलाइन के साथ ऑनलाइन कक्षाएं भी यथावथ जारी रहेंगी। इसके लिए कॉलेजों को अलग-अलग समय-सारणी बनाई जाएगी। विद्यार्थियों की संख्या अधिक हुई तो प्रस्तेक स्तर पर कोविड-19 के सुरक्षा मानकों के आधार पर बैच बनाकर प्रायोगिक एवं शैक्षणिक कार्य किया जाएंगे। विभाग ने छात्रावासों को खोलने के लिए चरणबद्ध योजना बनाई है। पहले चरण में स्नातक अंतिम वर्ष एवं स्नातकोत्तर तृतीय सेमेस्टर के विद्यार्थियों के लिए ही छात्रावास खोले जाएंगे। अभिभावक की लिखित सहमति के आधार पर ही विद्यार्थी को छात्रावास की सुविधा उपलब्ध होगी। रसोई, डायनिंग हॉल, स्नानागार एवं शौचालय आदि की स्वच्छता की निगरानी की जाएगी। कॉलेजों को आवश्यक वस्तुओं को छात्रावास परिसर में ही उपलब्ध कराना सुनिश्चित करना होगा। कॉलेज स्टॉफ के अलावा अन्य किसी का भी प्रवेश वर्जित रहेगा। छात्रावास में हेल्पलाइन नंबर भी चस्पा करने होंगे। विद्यार्थियों की सुरक्षा एवं स्वास्थ्य की जिम्मेदारी कॉलेज प्रबंधन की रहेगी।

शारीरिक तापमान के बाद पुस्तकालय में प्रवेश
कॉलेजों में लंबे समय से बंद पुस्तकालय भी खोले जाएंगे। पुस्तकालय में केवल पंजीकृत विद्यार्थियों को ही प्रवेश दिया जाएगा। प्रवेश करने से पहले कर्मचारी एवं छात्र का शारीरिक तापमान भी लिया जाएगा। इसके अलावा कोविड गाइडलाइन का पालन करना होगा। कार्यालय समय के अनुसार ही विद्यार्थी पुस्तकालय में अध्ययन कर सकेंगे। पुस्तकालय के अध्ययन कक्ष में 50 प्रतिशत विद्यार्थियों की ही उपस्थिति रहेगी। किसी भी विद्यार्थी के कोविड से संक्रमित पाए जाने पर पुस्तकालय को खाली करवाकर सेनेटाइज करवाया जाएगा।

मेस एवं सुरक्षा व्यवस्था को लेकर भी निर्देश
उच्च शिक्षा विभाग ने छात्रावास के मेस व्यवस्था को लेकर भी विस्तृत निर्देश दिए हैं। जिसमें ताजा, पौष्टिक एवं वरिष्ठ कर्मचारियों की निगरानी में भोजन बनाने, मेस की समय-सारणी बनाकर समयावधि बढ़ाए जाने, कोविड-19 के निर्देशों का पालन करने, भोजन कक्ष में विद्यार्थियों के बैठने के स्थान को प्रतिदिन स्वच्छ एवं सेनेटाइज करने को कहा गया है। इसके अलावा छात्रावास में मेस अनिवार्य किया गया है। ताकि विद्यार्थियों को बाहर से भोजन मंगाने की आवश्यकता न हो। इसके अलावा विभिन्न बिन्दुओं पर सुरक्षा व्यवस्था भी सुनिश्चित करने को कहा गया है।