जान जरूरी है: तालिबान के सत्ता संभालते ही CNN की रिपोर्टर ने हिजाब पहन लिया

CCN/डेस्क
क्लैरिसा वार्ड अमेरिकी मीडिया हाउस CNN की रिपोर्टर हैं। उन्होंने कहा कि अब महिलाएं ज्यादा दकियानूसी कपड़े पहन रही हैं।

काबुल. अमेरिकी फौजों (US Forces) ने भले ही तालिबान (Taliban) को जोरदार टक्कर दी हो, लेकिन अब अफगानिस्तान में तालिबान का खौफ देखा जा सकता है। अफगानिस्तान में सत्ता बदलते ही मीडिया को भी अपना कलेवर बदलना पड़ा। CNN चीफ इंटरनेशनल रिपोर्टर क्लैरिसा वार्ड हिजाब में नजर आईं। रिपोर्टिंग के दौरान क्लैरिसा ने कहा कि एक तरफ तालिबान नेता ‘अमेरिका का खात्मा हो’ का नारा लगा रहे हैं और दूसरी तरफ उनका रवैया काफी सहयोगात्मक रवैया दिखाई दे रहा है। ये पूरी तरह से अजीब है।

क्लैरिसा बोलीं- औरतों के लिए अफगानिस्तान बदला

16 अगस्त को क्लैरिसा काबुल स्थित अमेरिकी दूतावास के बाहर रिपोर्टिंग कर रही थीं। उन्होंने कहा कि दो दिन पहले के मुकाबले अब अफगानिस्तान की सड़कों पर महिलाएं बहुत कम नजर आ रही हैं। एक और चीज गौर करने लायक है, वो ये कि अफगानिस्तान में तालिबान हुकूमत कायम होने के बाद महिलाएं ज्यादा पारंपरिक और दकियानूसी परिधानों में नजर आ रही हैं।

क्लैरिसा ने सफाई दी

क्लैरिसा ने वायरल हो रही तस्वीरों पर सफाई दी है। उन्होंने कहा- ये तस्वीरें सही नहीं हैं। एक फोटो प्राइवेट कम्पाउंड की है (बिना हिजाब वाली)। दूसरी तस्वीरों में मैं तालिबान कब्जे वाले काबुल की सड़कों पर हूं। पहले भी मैंने जब काबुल की सड़कों पर रिपोर्टिंग की तो हिजाब पहने रखा था। हालांकि, ये पूरी तरह कवर नहीं था। ये बुर्का नहीं है। थोड़ा बदलाव तो हुआ है, लेकिन पूरी तरह से नहीं।

सोशल मीडिया पर वायरल फोटो

क्लैरिसा की हिजाब वाली फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। कुछ सोशल मीडिया पोस्ट्स का दावा है कि तालिबान के राज के महज 24 घंटों के भीतर ही उनका ड्रेसअप पूरी तरह से बदल चुका है। कई लोगों का कहना था कि क्लैरिसा ने तालिबान से डर के चलते अपने कपड़ों के चयन में बदलाव किया है।