सरकारी अस्पताल में लापरवाही का जिम्मेदार कौन

 

मोहखेड़:- ऐसा कुछ आलम है तहसील मुख्यालय के मोहखेड़ सार्वजनिक अस्पताल का। यहां आसपास के गांव से आने वाले पीड़ित मरीज यहां पर यहां उम्मीद लेकर आते हैं कि हम अपना इलाज करवा सके।लेकिन ग्रामीण और इलाज करवा चुके पीड़ितों का कहना है कि डॉक्टर ने जो दवाई दी है अगर वहां दवाइयां उपलब्ध नहीं है तो उसकी जगह मल्टीविटामिन दवा या कोई और दवाई दे दी जाती है ऊपर से यहां का स्टाफ भी पीड़ितों से तू चटक करके बातें करता है ऐसे में इस सब का जिम्मेदार किसे ठहराए यहां सिर्फ अस्पताल कर्मियों की गलतियों का नतीजा है शासन प्रशासन ध्यान नहीं दे रहे है ।