18 सितंबर को मनाया जायेगा राजा शंकरशाह , एवं कुंवर रघुनाथ शाह का बलिदान दिवस

CCN/छिंदवाड़ा 

छिंदवाड़ा – प्रथम स्वतंत्रता संग्राम के वीर योद्धा  और 1857 के सिपाही आदिवासियों के संरक्षक  राजा शंकरशाह एवं कुॅवर रघुनाथ शाह जिन्होनें  अपना संपूर्ण जीवन अंग्रेजों से अपना लोहा मनवाया और अंग्रेजो के सामने कभी सिर नहीं झुकाया । ऐसे वीर योद्धाओं को अंग्रेजों ने क्रूरता पूर्वक 1857 की क्रांति में तोप के सामने खड़ा करके उनकी हत्या करवा दी । राजा शंकरशाह एवं कुॅवर रघुनाथ शाह ने आदिवासियों के अधिकार की लड़ाई के लिये अपना संपूर्ण जीवन अंग्रेजो से लड़ाई करने में लगा दिया और अपने आपको अंग्रेजो की तोपों के सामने खड़ा कर दोनों एक साथ शहीद हो गये । गोंडवाना महासभा के जिला अध्यक्ष ठा. प्रहलाद सिंह कुसरे ने बताया कि  ऐसे वीर पुरूष के बलिदान दिवस के अवसर पर उनका  बलिदान  दिवस 18 सितंबर दिन शनिवार को 11 बजे से शाम 5 बजे स्थानीय दशहरा मैदान छिंदवाड़ा में भव्य रूप में मनाया जायेगा । इस अवसर पर कार्यक्रम की मुख्य अतिथि भारतीय गोंडवाना पार्टी की राष्ट्रीय  अध्यक्ष  मोनिका बट्टी विशेष रूप रूप से उपस्थित रहेंगी । श्री कुसरे ने समस्त पदाधिकारियों, कार्यकर्ताओं और सामाजिक बंधुओं से अपील की है कि वे इस कार्यक्रम में अधिक से अधिक संख्या में उपस्थित होकर ऐसे योद्धा वीर पुरूष को अपनी श्रद्धांजली अर्पित करें ।