शिविर प्रारंभ होता है समापन नहीं..

रासेयो सात दिवसीय विशेष शिविर का हुआ समापन डॉ. वाई.के. शर्मा ने कहा समाज सेवा स्वयंसेवकों के लिए शिविर प्रारंभ होता है समापन नहीं

परासिया/CCN

परासिया/रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय जबलपुर के राष्ट्रीय सेवा योजना प्रकोष्ठ कार्यक्रम समन्वयक प्रोफ़ेसर अशोक कुमार मराठे के निर्देशानुसार जिला संगठक डॉ. वाई. के. शर्मा के आदेश अनुसार शासकीय पेंचव्हेली स्नातकोत्तर महाविद्यालय परासिया की राष्ट्रीय सेवा योजना छात्र एवं छात्रा इकाई प्राचार्य और संरक्षक डॉ पीआर चंदेल कर एवं राष्ट्रीय सेवा योजना कार्यक्रम राष्ट्रीय सेवा योजना छात्र कार्यक्रम अधिकारी प्रो. गगन कुमार बरखानिया छात्रा कार्यक्रम अधिकारी प्रो. संतोषी रोमडे के मार्गदर्शन में एनएसएस विशेष शिविर का आयोजन गोदग्राम सोनापीपरी में लगाया गया शिविर नायक मनेश भलावी के नेतृत्व में सातों दिन अलग-अलग कार्यक्रमों का आयोजन किया गया एवं ग्रामीणों को जागरूक किया गया ग्रामीणों को नशा मुक्त, स्वच्छता, जल बचाओ, शिक्षा, बाल शोषण, बाल मजदूरी, एवं रैली, नुक्कड़ नाटक, ग्राम सर्वे, पोस्टर, नारे, स्लोगन के माध्यम से जागरूकता अभियान चलाया गया और प्रसिद्ध हनुमान मंदिर कोसमी में एक दिवसीय स्वच्छता अभियान चलाया गया जिसमें वन टाइम यूज़ प्लास्टिक को हटाकर संरक्षण किया गया और कोसमी जंगल के वन्यजीवों के लिए जल की व्यवस्था की गई जहां बंदरों की टोली जल पीकर संतुष्ट दिखाई दिए सातों दिवस बौद्धिक चर्चा में स्वयंसेवकों को पत्रका, प्रोफेसर, पुलिस अधिकारी, वकील, एक सफल समाज सेवक जैसे कई प्लेटफार्म के बारे में बताया गया एवं उनके विषय में अधिक से अधिक जानकारी दिया गया सात दिवसीय विशेष शिविर के समापन अवसर पर मुख्य अतिथि रासेयो जिला संगठन डॉक्टर बाई के शर्मा शिविर पर उपस्थित रहे उन्होंने राष्ट्रीय सेवा योजना का सिद्धांत भाग मैं नहीं आपको सरल भाषा में समझाते हुए स्वयंसेवकों को अपने लक्ष्य पर बढ़ने की शुभकामनाएं दिया और कहा शिविर का समापन नहीं स्वयं सेवकों के लिए समाज सेवा का प्रारंभ है।

महाविद्यालय प्राचार्य डॉ. पी.आर. चंदेलकर सर ने भी बच्चों को कहा परीक्षा की अच्छी तैयारी कर परीक्षा दे। इस शिविर पर राष्ट्रीय सेवा योजना के वरिष्ठ स्वयंसेवक अक्षय चौरसिया, कन्हैया बिनझाड़े, बलराम उईके, शिवसिंह डेहरिया, सुरजीत बट्टी, अखिलेश प्रजापति, राजेंद्र धुर्वे उपस्थित रहे