छिंदवाड़ा से भोपाल, राष्ट्रीय सेवा योजना बाल संरक्षण साईकिल यात्रा!

न्यूज़ डेस्क। corn city news

राष्ट्रीय सेवा योजना स्वयं सेवकों के माध्यम से यात्रा 26 जनवरी 2022 गणतंत्र दिवस से प्रारंभ हुई थी छिंदवाड़ा से मध्यप्रदेश की राजधानी, भोपाल के लिये निकले 5 युवा साथी बाल संरक्षण की अलख जगा रहे हैं। ज्ञात हो कि ये युवा साथी एनएसएस के स्वयंसेवक हैं मनेश के नेतृत्व में चल रही इस यात्रा में राधेश्याम, रमेश, प्रशांत, अजय…. भी हैं। मनेश, राधेश्याम, रमेश, प्रशांत, अजय शासकीय पेंचव्हेली स्नातकोत्तर महाविद्यालय परासिया जिला छिंदवाड़ा मध्य प्रदेश.के छात्र हैं।

मनेश ने कहा कि मुझे इस इंटर्नशिप के दौरान ही पता चला कि मध्यप्रदेश, बच्चों के खिलाफ होने वाली हिंसा में दुर्भाग्य से प्रथम स्थान रखता है। इस हिंसा में बाल श्रम, बाल लैंगिक शोषण, बाल सिवाह, बाल भिक्षावृत्ति और बाल तस्करी भी शामिल है। इसलिये मैंने और मेरे साथियों ने यह तय किया कि हमें जनसामान्य को बाल हिंसा पर जागरूक करना चाहिये। यह हम युवाओं का कर्तव्य है इसलिये हमने इस रैली का आगाज़ अधिकार और कर्तव्य का बोध कराने वाले गणतंत्र दिवस पर किया।

इस यात्रा का हरी झंडी दिखाकर शुभारंभ शासकीय पेंचव्हेली स्नातकोत्तर महाविद्यालय परासिया प्राचार्य डॉ.पी. आर. चंदेलकर सर एवं मुख्य अतिथि जिला कार्यक्रम संगठक वाय. के. शर्मा तथा डॉ श्रीमती रजनी कावरेती विभागाध्यक्ष समाजशास्त्र शासकीय महाविद्यालय चांद द्वारा किया गया। ज्ञात हो कि यह यात्रा छिंदवाड़ा से निकलकर तामिया, मटकुली के रास्ते पिपरिया पहुंचेगी। पिपरिया से होशंगाबाद और फिर भोपाल। लगभग 300 किलोमीटर की दूरी यह युवा, 4 दिन में तय किया। ये युवा जगह-जगह पर लोगों से संवाद करते हुए गए।
डॉक्टर पी.आर चंदेलकर सर ने एनएसएस स्वयंसेवकों का उद्बोधन करते हुए कहा छिंदवाड़ा जिले को ऑप्शन सेवकों पर गर्व है और यहां कार्य छिंदवाड़ा जिले में आपके द्वारा किया जा रहा है एनएसएस के जिला संगठक वाय. के. शर्मा ने कहा कि यह हम सभी के लिये गौरव का क्षण है कि जिले के युवा स्वयंसेवक इस तरह का बीड़ा उठा रहे हैं।

रविवार को श्री राहुल सिंह परिहार जी एवं श्री प्रशांत दुबे जी ने यात्रा पूर्ण कर चुके साथियों को अपनी इस अद्भुत पहल के लिए बधाई दी। मनेश एवं सभी साथियों का स्वागत तिलक लगाकर व पुष्पमाला पहनाकर नारों की गूंज के साथ किया गया।
सोमवार को बाल आयोग एवं महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारियों से मुलाकात
सोमवार को युवा साईकिल यात्रियों के अनुभवों को सुनने और स्वागत के लिये मध्यप्रदेश राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग के सदस्य श्री बृजेश चौहान जी ने पहल की। उन्होंने सभी को आयोग आमंत्रित किया और स्वागत किया।

इसी क्रम में महिला एवं बाल विकास विभाग के संयुक्त संचालक और आईसीपीएस प्रभारी डॉ. विशाल नाडकर्णी, सुश्री तृप्ति त्रिपाठी, सुरेश तोमर जी तथा गंगराड़े सर व शालीन शर्मा जी ने भी युवाओं के अनुभव सुने और उनका स्वागत किया। महिला बाल विकास विभाग ने ट्वीट भी किया।

मंगलवार को राज्य के विधायक विश्राम गृह में माननीय डॉक्टर मोहन यादव जी उच्च शिक्षा विभाग मध्यप्रदेश शासन से युवाओं ने मुलाकात की माननीय उच्च शिक्षा मंत्री द्वारा पुष्प माला से स्वागत किया। मंत्री महोदय ने दर्शन करते हुए कहा बाल संरक्षण के प्रति आपके जागरूकता अभियान सफल होगा और मंत्री महोदय ने कहा आज हमारे बीच मध्य प्रदेश के राष्ट्रीय सेवा योजना का नेतृत्व करते हुए दो दल मौजूद है पहला बादल जिसने राष्ट्रीय सेवा योजना के माध्यम से गणतंत्र दिवस के शुभ अवसर पर राजपथ पर सलामी दिया और दूसरा बादल जिसने बाल संरक्षण जागरूकता कार्यक्रम के अंतर्गत 300 किलोमीटर का सफर तय कर विधायक विश्राम गृह में मौजद है
जिसके बाद राज्य एनएसएस अधिकारी डॉक्टर आरके विजय सर ने स्वयं सेवकों को सराहना देते हुए शुभकामनाएं दिया।