धूम धाम से होगा कलश व जबारे का विसर्जन आज

धूम धाम से होगा कलश व जबारे का विसर्जन आज

CCN/डिंडोरी ब्योरो रिपोर्ट

डिंडोरी/डिंडोरी जिले में मैया के जवारे हरे हरे आज शारदेय नवरात्र की नवमी तिथी पर जवारे बिसर्जन किया जायेगा।दोनो पक्ष के नवरात्रयो मे भक्तो के द्वारा अपनी अपनी मन्नत के अनुसार माता रानी के जवारे व कलश की स्थापना की जाती है जिसे नो दिन मे ही विसर्जन किया जाता है जिसे तिथीनुसार नही बल्कि नो दिन मे ही विसर्जन किया जाता है विसर्जन के दौरान पंडा वाना लेकर तो कोई वाना गाल मे छेद कर तो साकल पहनकर अपनी अपनी श्रद्धा भक्तिनुसार शृंगार कर काली रूप धारण कर माँ की भगते गाते ढोलक मंजीरा तो कही मांदर टिमकी तो कही ढोल तासे के साथ उनके धुन मे नाचते यात्रा निकलती है जिसे देखने के लिये भक्तो की अच्छी-खासी भीड़ उमाड़ती है।जवारे शाम को माता सातो बहानिया के मन्दिर से बड़े धूम धाम के साथ बाजे गाजे के साथ निकाला जायेगा यह नवरात्र मे मन्नत पूरी होने से भक्तो के द्वारा माँ के नाम की कलश व जवारे बोई जाती है दोनो पक्ष के नवरात्र मे ओर माताये बहिने सर पर रख कर नर्मदा दक्षिण तट सातोबहानिया मन्दिर जो की डिंडोरी दक्षिण तट का सबसे प्राचीन मन्दिर है यहा सातो बहानिया खेर खूट खेर माई हरदोल लाला दक्षिण मुखी हनुमान भोले नाथ वट बृक्ष बिराजमान है यहा से माँ के जबारे शाम को माता रानी की आरती के पश्चात नगर भ्रमण के लिये जबारा कलश यात्रा निकाली जायेगी जो की मन्दिर से नर्मदा गंज होते हुये राधा कृष्ण मन्दिर महा लक्ष्मी मन्दिर होते हुये जगदंबा मन्दिर मेन मार्केट से राम मन्दिर होते हुये डी डी मार्केट से नर्मदा जी मे विसर्जन कर भक्त उपवास का भी समापन किया करेंगे।