बांध लबालब ,घरों में पानी को तरसे

CCN/कॉर्नसिटी

सारोठ जलाशय में भरपूर पानी होने के बाद भी लोगों को जलापूर्ति में मनमानी की जा रही है। ग्रामीणों ने बताया कि नल संचालक द्वारा मात्र 15 मिनट पानी दिया जा रहा है। इससे ग्रामीण परेशान है।15 मिनट में से 5 मिनट तो पाइपलाइन भरने में लग जाता है। घरों में महज 10 मिनट पानी मिलता है । कम पानी के कारण पूर्ति नहीं हो पाती। लोगों ने बताया कि 80 रुपए प्रतिमाह नल का बिल लिया जाता है । कम से कम 30 से 40 मिनट पानी दिया जाना चाहिए।

छिन्दवाड़ा/महलपुर:- सारोठ जलाशय में भरपूर पानी होने के बाद भी लोगों को जलापूर्ति में मनमानी की जा रही है। ग्रामीणों ने बताया कि नल संचालक द्वारा मात्र 15 मिनट पानी दिया जा रहा है। इससे ग्रामीण परेशान है।15 मिनट में से 5 मिनट तो पाइपलाइन भरने में लग जाता है। घरों में महज 10 मिनट पानी मिलता है । कम पानी के कारण पूर्ति नहीं हो पाती। लोगों ने बताया कि 80 रुपए प्रतिमाह नल का बिल लिया जाता है । कम से कम 30 से 40 मिनट पानी दिया जाना चाहिए। ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि जलापूर्ति में मनमानी की जा रही है। उन्होंने ग्राम पंचायत व प्रशासन से जलापूर्ति का समय बढ़ाने की मांग की है।ग्राम पंचायत कोल्हिया परदेसी के वार्ड 8 हनुमान मंदिर के बाजू में कच्ची नाली की सफाई नहीं होने से गंदा पानी भरा हुआ है। मच्छर बढ़ गए हैं। इससे बीमारी फैलने का डर है। ग्रामीणों ने जिम्मेदारों से नियमित सफाई कराने की मांग की है।